योग दिवस के पूर्व आयोजन पर मंडराए विवादों के बादल (देखे विडियो) : आबूरोड - AbuTimes

योग दिवस के पूर्व आयोजन पर मंडराए विवादों के बादल (देखे विडियो) : आबूरोड


| June 20, 2018 |  

योगा को एक दिन का राजनिती चेहरा बनाना चाहते है: कुछ मतलबी लोग
हमारे द्वारा योगा पिछले पांच सालेा से नि:शुल्क रोज करवाया जाता ह: डा.टीना नाथ

आबूरोड। भारती आयुर्वेदिक योगा एवं नेचुरोपैथी चिकितस्क टीना नाथ ने कहा कि पालिकाध्यक्ष सुरेश सिंदल ने महिलाओं के प्रति अत्यंत शर्मनाक टिप्पणी की। टीना नाथ ने कहा की कुठ मतलबी लोग योगा को एक दिन का राजनिी चेहरा बनाना चाहते है जबकि हमारे द्वारा पिछले पांच सालो ने नि:शुल्क योगा करवाया जाता है, सिरोही जिले के गांवो गांवो व ढ़ाणी ढ़ाणी मे योगा के नि:शुल्क शिविरो का आयोजन किया जाता है । अपने साथ हुई शर्मनाक घटना की बुधवार को डाक बंगले में पत्रकारों को जानकारी देते हुये पूरी घटना के बारे मे बताया।

उन्होंने कहा कि उन्होने इस नि:शुल्क शिविर के लिये रेलवे के अधिेकारीयो से लिखित मे स्वीकृति ली। इसके बाद रेलवे ग्राउंड में निशुल्क योग शिविर आयोजित किया गया। रुद्राक्ष योगा ग्रुप की ओर से 18 से 21 जून तक रेलवे ग्राउंड में चलने वाले निशुल्क योगा व प्राणायाम शिविर में महिलाओं व लोगों को योग करवाए जा रहे है। इसी दौरान मंगलवार शाम को पालिकाध्यक्ष सुरेश सिंदल, अधिशाषी अधिकारी महैन्द्र सिंह चौधरी, तहसीलदार मनसुखराम डामोर सहित अन्य लोगो के साथ रेलवे ग्राउंड पहुंचे। उन्हें रेलवे ग्राउंड में 21 जून को योग दिवस के तहत बड़ा कार्यक्रम आयोजित करने का हवाला दिया। इसके लिए उसे उनका टेंट हटाने को कहा। इस पर उन्होंने एतराज जताया। रेलवे की इजाजत होने का हवाला दिया।

उन्होंने सामूहिक कार्यक्रम आयोजित करने को कहा। लेकिन, पालिकाध्यक्ष ने उनकी एक नहीं सुनी। पालिकाध्यक्ष व उनके साथ आए लोगों ने टेंट को उखाड़ फैकने की धमकी दी। उनके साथ अभद्र व्यवहार किया। पुलिस को बुलवा लिया। मौके पर पहुंची महिलाओं ने गैर जिममेदाराना व्यवहार पर आक्रोश व्यक्त किया। विवाद बढ़ता देख कर उन्होंने रेलवे अधिकारियों को समूचे प्रकरण से अवगत करवाया।

लेकिन, रेलवे अधिकारियों के आने से पहले ही पालिकाध्यक्ष व उनके साथ आए लोग रुखसत हो गए। डॉ. नाथ ने पत्रकारों को बताया कि पालिकाध्यक्ष के अभद्र व्यवहार से वह काफी आहत हो गई। उन्होंने समूचे घटनाक्रम की जानकारी पुलिस अधीक्षक को दी। उन्हें पूरे मामले से अवगत करवाया। सुरक्षा मुहैया करवाने के साथ कार्यवाही की मांग की। एक सवाल के जवाब में डॉ. टीना ने कहा कि इस तरह का बर्ताव उनके जीवन में पहली बार हुआ है। महिलाओं के साथ इस तरह की घटना व गंदी टिप्पणी निंदनीय है। योग दिवस के बाद इस बारे में पुलिस में रिपोर्ट देने के साथ कानूनी कार्यवाही को अंजाम दिया जाएगा।

Share Button

 

Comments box may take a while to load
Stay logged in to your facebook account before commenting


Participate in exclusive AT wizard