रात्री मे आधा शटर खोल बेच रहे है शराब, नियमो की खुल्लेआम उडा रहे है धज्जियां


| July 1, 2017 |  

आबकारी विभाग की मौन स्वीकृति बडा रही है इनका होसला
आबूरोड। सुप्रीमकोर्ट के फेसले के बाद शराब कि दुकानो को नेशनल व स्टेट हाईवे से हटाकर अन्य स्थानो पर लगवाया गया जिसका भी रवासी क्षेत्रो कि महिलाओ व विभिन्न संगठनो द्वारा विरोध प्रकट किया गया लेकिन सरकार व आबकारी विभाग ने किसी कि नही सुनी ओर शराब दुकानदार बैखोफ होकर शराब बेच रहे है, सरकार द्वारा शराब बेचने का एक समय निर्धारित किया गया है लेकिन यह दुकानदार अपने फायदे के लिये सभी नियमो को ताख पर रख कर नियमो कि खुल्ल्ेा आम धज्जियां उडाते नजर आ रहे है जबकि इस बारे मे आबकारी विभाग के अधिकारीयो को अवगत है लेकिन उनकी चुप्पी उनका होसला बडा रही है।

गुरूवार कि देर रात्री गांधीनगर सेंचुरी मार्बल ईकाई के सामने एक अंग्रेजी शराब कि दुकान संचालित है जो कि रात्री करीबन 11 बजे के समीप अपनी दुकान का आधा शटर खोलकर शराब बेच रहा था, ओर वो भी अधिक किमत लेकर। गुरूवार कि देर रात्री को गुजरात के पर्यटक अपने वाहनो से वहां होकर गुजर रहे थे इसी दोरान उन्होने शराब कि दुकान का बोर्ड देखा ओर शराब लेने कि इच्छा जाहिर कि उसी दोरान दो वही के निवासी युवक आये ओर शराब दिलाने का कहने लगे दोनो युवको ने दुकान का शटर बजाया दुकानदार ने आधा शटर खोल उन युवको को शराब दी वही यवुको द्वारा रूपये देने पर दुकानदार द्वारा ज्यादा रूपये मांगने पर दोनो युवक दुकानदार से उलझ गये इस पर दुकानदार ने कहा कि दुकानबंद होने के बाद शराब इसी किमत पर मिलेगी लेनी हो तो लो वर्ना यहां से जाओ। वहां खडे कुछ लोगो ने इसका विरोध किया ओर दुकानदार कि शिकायत करने कि बात कही तो दुकानदार ने कहा कि आबकारी विभाग व अन्य अधिकारीयो को हफ्ता जाता है जाओ शिकायत कर लो।

आबकारी विभाग की मोन स्वीकृति से इनका बढ़ता है होसला

शहर शहित अन्य जगहो पर शराब कि दुकानदारो की आये दिन पर्यटक व शहर के लोगो द्वारा शराब कि अधिक दाम लेने व अभद्र व्यवहार कि शिकायते कि जाती है। लेकिन नाम मात्र कि कार्यवाही कर संतोष कर लिया जाता है, शराब दुकानदारो के खिलाफ कठारे कार्यवाही नही होने से इनके होसले बढ गये है ओर यह बिना किसी डर के खुल्लेआम लुट रहे है।
इनका कहना है

हम सभी दोस्त आबूपर्वत घूमने आये है, यहा पर शराब कि दुकान देखी तो लेनी चाहि लेकिन दुकानदार द्वारा शराब के दुगने दाम मांगने पर हमारे द्वारा विरोध किया गया तो हमारे साथ गाली गलोच कि गई- मोहन भाई, पर्यटक कलोल गुजरात

रात्री मे कई बार शराब दुकानदार आधा शटर खोलकर शराब विक्रय करते है, वही कई बार दाम अधिक वसूलने के चक्कर मे पर्यटको से कहा सुनी भी हो जाति है हमारे द्वारा कई बार आबकारी विभाग को इस बारे मे अवगत करवाया गया लेकिन कठोर कार्यवाही नही होने से इनके होसले बुल्दं है- पुजा कुमारी, स्थानिय पार्षद, आबूरोड

इस बारे मे आबकारी विभाग के अधिकारीयो को फोन लगाया लेकिन उन्होने कॉल अटेण्ड नही किया। वही आबकारी निरिक्षक प्रधुमनसिंह भाटी को भी मोबाईल पर समपर्क करना चाह लेकिन उन्होने भी मोबाईल अटेण्ड नही किया।

Share Button

 

Comments box may take a while to load
Stay logged in to your facebook account before commenting


Participate in exclusive AT wizard