ब्लाइंड़ मर्डर का पर्दाफास, माउण्ट आबू पुलिस की बड़ी कामयाबी, आरोपी पुत्र-पुत्रवधु हिरासत में - AbuTimes

ब्लाइंड़ मर्डर का पर्दाफास, माउण्ट आबू पुलिस की बड़ी कामयाबी, आरोपी पुत्र-पुत्रवधु हिरासत में


| April 20, 2018 |  

माउण्ट आबू | माउण्ट आबू के कोरनटी नाले में 16 अप्रेल की देर शाम को एक में अज्ञात शव पड़ा होने की सूचना पुलिस को मिली थी। प्रारम्भिक तौर पर यह ब्लाइंड़ मर्डर था। जिसका उस समय में कुछ पता नहीं चल पाया। लेकिन पुलिस के द्वारा अनुसंधान करने पर पाया गया कि,माउण्ट आबू के सनराइज वैली के पीछे के रास्ते में एक मजदूरी करने वाला परिवार रहता था। जो पिछले चार-पांच दिनों से गायब था। तथा आरोपी भरत अपने पिता को आधार कार्ड बनवाने व माउण्ट आबू में अच्छी सम्पत्ति की लालच में  पिता कुछ समय पूर्व में यहां पर लाया था। । इस मामले में प्रथम दृष्टया पुत्र को  अपने पिता की जमीन-जायजाद में हिस्सा नहीं मिलना एवं पिता के द्वारा दो शादियां करने की वजह ही इस वारदात का कारण बनी ।

प्रेस कांफ्रेंस के जरिये माउण्ट आबू, थानाधिकारी सरोज बैरवा ने बताया की आरोपी  भरत गमेती पिछले  काफी समय से माउण्ट आबू में मजदूरी का काम करता था, वह यहीं पर सनराइज वैली के पीछे प्रेम सिंह के मकान में किराए के कमरे में रहता था।  लेकिन उसे अपने गांव थाना गलन्दर,बिछीवाड़ा,जिला डूंगरपुर में पुश्तैनी जायजाद में से उसके पिता से किसी प्रकार का सहयोग नहीं मिल रहा था। साथ ही उसके पिता शंकर लाल गमेती जाति भील थाना गलन्दर,बिछीवाड़ा,जिला डूंगरपुर ने दो शादियां कर रखी थी। व गावं में मृत्तक शंकर लाल गमेती भील के पास में 29 बीधा जमीन भी थी । जिसमें से वह अपने पुत्र भरत को  कुछ भी नहीं दे रहा था।


 

अंतत: यहीं वजह शंकर लाल की मौत का कारण बनी। यानि सम्पित्त से पुत्र को वंचित रखना व दूसरी शादी करके अपनी दूसरी पत्नि को सारी सुख सुविधाएं देना।  ठीक यही कारण  भरत लाल को गंवारा नहीं हो रहा था।   और उसने मौका पाकर गला दबाकर अपने ही पिता की हत्या कर दी। बाद में उसके शव को माउण्ट आबू के सनराइज वैली के पास बहने वाले कोरनटी नाले में नग्न अवस्था में फेक आया । व उसके कपड़ों को दूर जलाकर के फेक दिया ।

Share Button

 

Comments box may take a while to load
Stay logged in to your facebook account before commenting


Participate in exclusive AT wizard